Class 11 Geography III Chapter 2 मानचित्र मापनी

NCERT Solutions for Class 11 Geography Chapter 2

(मानचित्र मापनी)

प्र० 1. बहुवैकल्पिक प्रश्न
(i) निम्नलिखित में से कौन-सी विधि मापनी की सार्वत्रिक विधि है?
(क) साधारण प्रकथन
(ख) निरूपक भिन्न
(ग) आलेखी विधि
(घ) उपर्युक्त में से कोई नहीं

उत्तर- (ख) निरूपक भिन्न

(ii) मानचित्र की दूरी को मापनी में किस रूप में जाना जाता है?
(क) अंश
(ख) हर
(ग) मापनी का प्रकथन
(घ) निरूपक भिन्न

उत्तर- (क) अंश

(iii) मापनी में ‘अंश’ व्यक्त करता है
(क) धरातल की दूरी
(ख) मानचित्र पर दूरी
(ग) दोनों दूरियाँ
(घ) उपर्युक्त में से कोई नहीं

उत्तर- (ख) मानचित्र की दूरी

प्र० 2. निम्नलिखित प्रश्नों के उत्तर लगभग 30 शब्दों में दें
(i) मापक की दो विभिन्न प्रणालियाँ कौन-कौन सी हैं?

उत्तर- मापक की दो प्रणालियाँ हैं
(क) मेट्रिक प्रणाली
(ख) अंग्रेजी प्रणाली।

(क) माप की मेट्रिक प्रणाली का उपयोग भारत तथा विश्व के अनेक अन्य देशों में किया जाता है।
माप की मेट्रिक प्रणाली – 1 किलोमीटर = 1000 मीटर
1 मीटर = 100 सेंटीमीटर
1 सेंटीमीटर = 10 मिलीमीटर
(ख) माप की अंग्रेज़ी प्रणाली संयुक्त राज्य अमेरिका एवं इंग्लैंड दोनों स्थानों में प्रचलित है।
माप की अंग्रेजी प्रणाली – 1 मील = 8 फर्लाग
1 फर्लाग = 220 यार्ड
1 यार्ड = 3 फुट
1 फुट = 12 इंच

(ii) मेट्रिक एवं अंग्रेज़ी प्रणाली में मापनी के एक-एक उदाहरण दें।
उत्तर- प्र० 2 (i) का उत्तर देखें।

(iii) निरूपक भिन्न विधि को सार्वत्रिक विधि क्यों कहा जाता है|
उत्तर- निरूपक भिन्न विधि को सार्वत्रिक विधि कहे जाने के कारण- निरूपक भिन्न मानचित्र पर दी गई दूरी तथा धरातल पर उन्हीं दूरियों के बीच के अनुपात को व्यक्त करती है। मापनी में व्यक्त इकाइयों के उपयोग ने इस विधि को सबसे उपयुक्त बना दिया है। उदाहरण के लिए जब हम यह कहते हैं कि किसी मानचित्र का निरूपक भिन्न 1 : 1,00,000 है तो इसका अर्थ यह हुआ कि मानचित्र पर दूरी की 1 इकाई धरातल पर 1,00,000 उन्हीं इकाइयों में दूरी को प्रदर्शित करती है। यदि हमारी इकाई सेंटीमीटरों में है तो मानचित्र पर 1 सेंटीमीटर दूरी धरातल पर 1,00,000 सेंटीमीटर दूरी को दर्शाती है। जब हमारी इकाई इंचों में हो तो इसका अर्थ यह होगा कि मानचित्र पर 1 इंच धरातल के 1,00,000 इंच को दर्शाता है।

(iv) आलेखी विधि के मुख्य उपयोग क्या हैं?
उत्तर- मानचित्र पर किन्हीं दो स्थानों के बीच की दूरी एवं धरातल पर उन्हीं दो स्थानों के बीच की दूरी को एक क्षैतिज मापनी के द्वारा दिखाया जाता है, जिस पर प्राथमिक एवं द्वितीयक विभाजक चिह्नित होते हैं। मापनी के प्रकथन की तरह ही यह विधि भी केवल उन्हीं के लिए उपयुक्त है जो मापनी में प्रयुक्त विशिष्ट इकाई से परिचित हों। इसके विपरीत मानचित्र को बड़ा या छोटा करने पर भी आलेखी मापनी मान्य रहती है।

प्र० 3. निम्न मापनी के कथन को निरूपक भिन्न में बदलें।
(i) 5 सेंटीमीटर, 10 किलोमीटर में व्यक्त करता है।

उत्तर-


(ii) 2 इंच के द्वारा 4 मील व्यक्त होता है।
उत्तर- 2 इंच व्यक्त करते हैं = 4 मील
1 इंच व्यक्त करता है = 2 मील (63,360 : 2)
1 इंच व्यक्त करता है = 126,720
निरूपक भिन्न R F = 1 : 126,720

(iii) 1 इंच के द्वारा 1 गज व्यक्त होता है।
उत्तर- 1 इंच व्यक्त करता है = 1 गज (36 इंच)
प्रदर्शक भिन्न = 1 : 36

(iv) 1 सेंटीमीटर, 100 मीटर को व्यक्त करता है।
उत्तर- 1 सेंटीमीटर व्यक्त करता है = 100 मीटर (10000 सेंटीमीटर)
प्रदर्शन भिन्न = 1 : 10,000

प्र० 4. निरूपक भिन्न को कोष्ठक में दी गई माप-प्रणाली के अनुसार मापनी के प्रकथन में परिवर्तित करें।
(i) 1 : 1, 00, 000 (किलोमीटर में)।

उत्तर- 1 : 1,00,000 अर्थात् 100000 सेंटीमीटर = 1 किलोमीटर
1 सेंटीमीटर व्यक्त करता है
1 किलोमीटर को

(ii) 1 : 31,680 (फर्लाग में)।
उत्तर- 1 इंच व्यक्त करता है = 31680
= 31680 ÷ (12 x 3 x 220)
= 7920 इंच
= 4 फर्लाग

(iii) 1 : 126,720 (मील में)
उत्तर- 1 इंच व्यक्त करता है = 1,26,720 इंच को
= 126,720 ÷ 63,360 = 2 मील
1 इंच व्यक्त करता है = 2 मील को

(iv) 1 : 50,000 (मीटर में)
उत्तर- 1 सेंटीमीटर व्यक्त करता है = 50,000 सेंटीमीटर
1 सेंटीमीटर व्यक्त करता है
= 50,000 ÷ 100 सेंटीमीटर (1 मीटर) = 500
1 सेंटीमीटर व्यक्त करता है = 500 मीटर

प्र० 5. 1 : 50,000 मापक पर एक आलेखी मापनी की रचना कीजिए, जिसमें किलोमीटर एवं मीटर पढ़े जा सकें।
उत्तर- परिपाटी के अनुसार, एक आलेखी मापनी बनाने के लिए लगभग 15 सेंटीमीटर लंबाई ली जाती है। 1 : 50,000 का अर्थ है, मानचित्र की एक इकाई दूरी धरातल की 50,000 इकाइयों को व्यक्त करती है। अर्थात् 1 सेंटीमीटर, 50,000 सेंटीमीटर को व्यक्त करता है।
15 सेंटीमीटर = 50,000 x किलोमीटर को व्यक्त करता है।
15 सेंटीमीटर = 7.5 किलोमीटर
चूँकि 7.5 किलोमीटर एक पूर्णांक नहीं है, इसलिए हम 5 या 10 (किलोमीटर) को पूर्णाक के रूप में ले सकते हैं। इस प्रश्न में 7.5 का निकटतम मान 5 को पूर्णांक के रूप में लेते हैं।
इस प्रकार 5 किलोमीटर को रेखा की लम्बाई में व्यक्त करने के लिए निम्नलिखित गणनाएँ करेंगे। 7.5 किलोमीटर को 15 सेंटीमीटर की रेखा के द्वारा व्यक्त किया जाता है।
5 किलोमीटर को 15 x की रेखा के द्वारा व्यक्त किया जाएगा। 0.5 किलोमीटर को 10 सेंटीमीटर की रेखा के द्वारा व्यक्त किया जाएगा।
आलेखी मापनी को निम्नलिखित चरणों में बनाया जा सकता है। सर्वप्रथम 10 सेंटीमीटर की एक सीधी रेखा खींचे तथा इसे 5 बराबर मुख्य भागों में विभाजित करें। बायें वाले एक मुख्य भाग को छोड़कर 0 से दाँई ओर प्रत्येक भाग को 1 किलोमीटर का मान प्रदान कर देते हैं। अब रेखा के बाँये भाग को 10 बराबर भागों में विभाजित करके तथा 0 से शुरू करते हुए प्रत्येक भाग को 100 मीटर के मान के द्वारा चिह्नित करते (इसे 2, 4 या 5 भागों में भी विभाजित किया जा सकता है तथा प्रत्येक उपविभागों के लिए 500, 250 या 200 मीटर के मान रखे जा सकते हैं।)।

NCERT Solutions for Class 11 Geography III Chapter 2 मानचित्र मापनी (Hindi Medium).